सुबन्तावली संशुष्कमांसत्वक्स्नायु

Roma

पुमान्एकद्विबहु
प्रथमासंशुष्कमांसत्वक्स्नायुः संशुष्कमांसत्वक्स्नायू संशुष्कमांसत्वक्स्नायवः
सम्बोधनम्संशुष्कमांसत्वक्स्नायो संशुष्कमांसत्वक्स्नायू संशुष्कमांसत्वक्स्नायवः
द्वितीयासंशुष्कमांसत्वक्स्नायुम् संशुष्कमांसत्वक्स्नायू संशुष्कमांसत्वक्स्नायून्
तृतीयासंशुष्कमांसत्वक्स्नायुना संशुष्कमांसत्वक्स्नायुभ्याम् संशुष्कमांसत्वक्स्नायुभिः
चतुर्थीसंशुष्कमांसत्वक्स्नायवे संशुष्कमांसत्वक्स्नायुभ्याम् संशुष्कमांसत्वक्स्नायुभ्यः
पञ्चमीसंशुष्कमांसत्वक्स्नायोः संशुष्कमांसत्वक्स्नायुभ्याम् संशुष्कमांसत्वक्स्नायुभ्यः
षष्ठीसंशुष्कमांसत्वक्स्नायोः संशुष्कमांसत्वक्स्नाय्वोः संशुष्कमांसत्वक्स्नायूनाम्
सप्तमीसंशुष्कमांसत्वक्स्नायौ संशुष्कमांसत्वक्स्नाय्वोः संशुष्कमांसत्वक्स्नायुषु

समास संशुष्कमांसत्वक्स्नायु

अव्यय ॰संशुष्कमांसत्वक्स्नायु

Le chameau Ocaml
Top | Index | Grammar | Sandhi | Reader | Corpus
© Gérard Huet 1994-2022
Logo Inria